Th11/रेमु और युकारी का अतिरिक्त मोड़

From Touhou Patch Center
Jump to: navigation, search
This page is a translated version of a page Th11/Reimu and Yukari's Extra and the translation is 100% complete.

Other languages:Bulgarian 99% • ‎German 100% • ‎English 100% • ‎4Kids English 96% • ‎British English 14% • ‎Google Translate English 100% • ‎Spanish 100% • ‎French 100% • ‎Hindi 100% • ‎Hungarian 21% • ‎Indonesian 100% • ‎Italian 100% • ‎Japanese 100% • ‎Korean 100% • ‎Luxembourgish 99% • ‎Dutch 100% • ‎Polish 53% • ‎Brazilian Portuguese 100% • ‎Russian 100% • ‎Swedish 100% • ‎Thai 100% • ‎Turkish 100% • ‎Ukrainian 100% • ‎Vietnamese 100% • ‎Simplified Chinese 100%

१७ अगस्त, २०१६ को ख़त्म हुआ।

Gnome-colors-gtk-edit.svg st07_00a.msg.jdiff


अतिरिक्त चरण

♪ अंतिम एकांत
Sanae Kochiya enters

Sanae

#2@30अरे, क्या तुम इस ठंडे मौसम में देवालय आई हो?

Sanae

#2@150हाहा, मैंने यहाँ के अभिनंदन देने की विधि सीख ली है।

Sanae

#2@290तुम गेनसोक्यो में सामान्य ज्ञान का उपयोग कर के पीछे नहीं रह सकते न!

Sanae Kochiya defeated

Reimu

#0@34तो वो नासमझ है कहाँ?

#0@42युकारी (क्या देवताओं को नासमझ कहना ठीक है? ठीक ही होगा।)

Reimu

#0@50अगर उस नरक के कौवे की बात सच है, तो ये सारी लड़ाइयाँ कानाको की करतूत हैं।

Reimu

#0@58क्या वो भूगर्भ पर भी कब्ज़ा करना चाहती है?

Koishi Komeiji enters

???

#0@66अरे, एक पुजारिन को पाने का कितना अच्छा समय है।

???

#0@134क्या तुम जानती हो कि इस देवालय की देवी कहाँ गई?

Reimu

#0@142वाह, मैं भी उसे ही ढूँढ़ रही थी।

???

#0@150क्या? एक पुजारिन अपने देवता को ढूँढ़ रही है? मज़ेदार है।

???

#0@158वो छिपी हुई है न?

Reimu

#0@166तुम कौन हो?

<Boss title>

Koishi

#0@174मैं हूँ कोइशी कोमेजी। एक साधारण भक्त।

Koishi

#0@182मैं भूगर्भ से यहाँ तक आई, पर मुझे इस देवालय का देवता नहीं दिख रहा...

Reimu

#0@190कोमेजी....? मैंने शायद ये नाम सुना है।

#0@198युकारी (तुमने ये भू आत्माओं के महल में सुना था न?)

Koishi

#0@206तुम उस महल के बारे में जानती हो?!

Reimu

#0@214मैं वहाँ कुछ वक़्त पहले गई थी।

Koishi

#0@222तो, क्या तुम....

Koishi

#0@230वही इंसान हो जिसके बारे में दीदी कह रही थी?

Reimu

#0@238मुझे ये ठीक नहीं लग रहा! सचमुच।

Koishi

#0@246दीदी बहुत ताक़तवर है, पर उन्हें एक शातिर, मूर्ख पुजारिन ने हरा दिया।

Reimu

#0@254ओए, अगर तो सातोरी की बहन हो, तो.... इसका मतलब तुम....

Koishi

#0@262मन पढ़ सकती हूँ?

Koishi

#0@270मैंने अपनी सातोरी आँख बंद कर दी है।

Koishi

#0@278दूसरों का मन पढ़ने से तुम्हें बस दुख मिलता है, और इसके बारे में कुछ अच्छा नहीं है।

Reimu

#0@286भगवान का शुक्र है।

Reimu

#0@294ख़ैर, मुझे कानाको या सुवाको नहीं दिख रहे, तो मैं....

♪ हार्टमैन की योकाई लड़की

Koishi

#0@302ज़रा रुको!

Koishi

#0@310मैं पर्वत के देवियों को नहीं ढूँढ़ पाई, पर मुझे एक अच्छा इंसान मिला।

Koishi

#0@318मैं उस ताक़तवर व्यक्ति को ढूँढ़ रही थी जिसने ओकू को देवताओं की शक्ति दी।

Koishi

#0@326पर अगर तुमने ओकू को हरा दिया, तो तुम उससे भी ताक़तवर हो!

Koishi

#0@334मैं उस व्यक्ति की ताक़त ज़रूर देखना चाहती हूँ जिसे दीदी ही हरा नहीं पाई!

Koishi Komeiji defeated

Koishi

#1@30वाह, तुम वाक़ई कोई साधारण व्यक्ति नहीं हो।

#1@38युकारी (तुम बिलकुल नहीं हो न?)

Reimu

#1@46कहा न, मैं एक आम इंसान होने की कोशिश कर रही हूँ।

Reimu

#1@54ख़ैर, तुम देवताओं को क्यों ढूँढ़ रही हो?

Koishi

#1@62देखो, वो दीदी के ओकू को इतना ताक़तवर बना पाए भले ही वो सिर्फ़ एक नरक की कौवा थी, है न?

Koishi

#1@70जो भी ये सुनेगा, उसे उन देवताओं को ढूँढ़कर ताक़तवर बनने की इच्छा होगी न?

Suwako

#1@134अरे ये क्या, दो-दो अतिथि? कितना अच्छा दिन है!

Reimu

#1@142वो रही। पर्वत की दूसरी देवी कहाँ गई? मैं उसे ढूँढ़ रही हूँ?

Suwako

#1@150वो थोड़ा ख़रीददारी करने गई है।

Koishi

#1@158अरे, क्या तुम पर्वत की एक देवी हो? क्या मैं कुछ पूछ सकती हूँ?

Suwako

#1@166रेमु, ये कौन है?

Reimu

#1@174नरक से कोइशी।

Suwako

#1@182अरे, कोइशी, यानि छोटा पत्थर? मुझे लगा वो एक योकाई है। तो, क्या पूछना है?

Koishi

#1@190हाँ। मैं इस आशा से आई हूँ कि मुझे अपने पालतू जानवरों के लिए देवताओं से कुछ मिले।

Suwako

#1@198........ क्या मतलब है तुम्हारा?

Reimu

#1@206अरे हाँ, अब याद आया। क्या तुम भूगर्भ की दुनिया में कुछ कर रही थी?

Suwako

#1@214भूगर्भ....? क्या तुम हमारे पर्वतीय औद्योगिक क्रांति परियोजना के बारे में कह रही हो?

Reimu

#1@222"औद्योगिक क्रांति परियोजना"??

Suwako

#1@230हम काप्पाओं के कारख़ानों को परख रहे थे। वो बाहरी दुनिया की तुलना में बहुत पीछे हैं।

Suwako

#1@238कानाको ने कहा कि अगर वो ऊर्जा का एक नया स्रोत ढूँढ़ पाएँ, तो इससे एक नई क्रांति होगी।

Suwako

#1@246कानाको को प्रोद्योगिकीय क्रांतियों से लगाव है।

#1@254युकारी (तो तुमने यातागारासु को परमाणु ऊर्जा पाने के लिए भूगर्भ भेज दिया?)

Suwako

#1@262मैंने उसे बताया कि परमाणु ऊर्जा काप्पाओं के लिए ख़तरनाक हो सकता है, फिर भी....

Koishi

#1@270तो? कैसा रहा वो?

Reimu

#1@278सुनो, तुम लोग।

Reimu

#1@286अगली बार, कुछ भी करने से पहले सबको बताया करो!

Reimu

#1@294तुम्हारी वजह से मुझे धधकते आग के नरक तक जाना पड़ा!

#1@302युकारी (हाँ....शाबाश, रेमु। तुमने अच्छा काम किया।)

#1@310युकारी (अब समझी ये सब कैसे हुआ। तुम घर जाकर आराम कर सकती हो, गर्म सोते में चाहो तो।)

Koishi

#1@318क्या तुम्हारी बात ख़त्म हुई?

Koishi

#1@326मैं एक देवता को ढूँढ़ रही हूँ जिसके पास मेरे पालतू जानवरों के लिए दुखद प्रेम प्रेम की शक्ति हो।

Reimu

#1@334तुम्हें लगता है कोई वैसी शक्ति तुम्हारे हवाले करेगा?