Th13/योमु की कहानी

From Touhou Patch Center
Jump to: navigation, search
This page is a translated version of a page Th13/Youmu's Scenario and the translation is 99% complete.

Other languages:German 100% • ‎English 100% • ‎4Kids English 95% • ‎British English 16% • ‎Google Translate English 100% • ‎Troll translations 99% • ‎Spanish 100% • ‎French 99% • ‎Hindi 99% • ‎Indonesian 100% • ‎Italian 99% • ‎Japanese 100% • ‎Korean 100% • ‎Luxembourgish 99% • ‎Polish 73% • ‎Brazilian Portuguese 100% • ‎Russian 100% • ‎Swedish 99% • ‎Thai 99% • ‎Vietnamese 100% • ‎Chinese 1% • ‎Simplified Chinese 100%

२८ जनवरी, २०१८ को ख़त्म हुआ। 

Gnome-colors-gtk-edit.svg st01d.msg.jdiff


चरण १

Youmu

#0@34हुँह ...

Youmu

#0@42लगता है सारी आत्माएँ गाँव की दिशा में बढ़ रहे हैं।

???

#0@50अरे, योमु?

Yuyuko Saigyouji enters

<Boss title>

Yuyuko

#0@118इतनी रात को कहाँ जा रही हो?

Youmu

#0@126आह, युयुको जी। मैं इन दिव्य आत्माओं की जाँच करने जा रही थी।

Yuyuko

#0@134क्या? आधी निद्रा में क्या बड़बड़ा रही हो?

Youmu

#0@142क्या? क्या ये एक गंभीर मामला नहीं है?

Yuyuko

#0@150क्या मतलब है तुम्हारा? खैर....

♪ प्रेतों का नेता

Yuyuko

#0@158....यदि तुम जाना चाहती हो, तो तुम्हें पहले मुझे हराना पड़ेगा!

Youmu

#0@166क्या मुसीबत है....

Yuyuko Saigyouji defeated

Yuyuko

#1@30क्या बात है। तुम जा सकती हो!

Youmu

#1@38(उनके पास सचमुच बहुत समय है...।)

Yuyuko

#1@46कुछ सोच रही हो?

Youmu

#1@54इन दिव्य आत्माओं के बारे में आपका क्या विचार है?

Yuyuko

#1@62मुझे लगता नहीं कि किसी कष्टप्रद योकाई की वापसी होने वाली है....

Yuyuko

#1@70या, मंदिर के पीछे की समाधि में, जैसे, कोई राज़ छिपा हो।

Youmu

#1@78क्या?

Youmu

#1@86ख़ैर, मैं चलती हूँ।

Yuyuko

#1@94मेरे लिए कोई यादगार लेते आना!

Gnome-colors-gtk-edit.svg st02d.msg.jdiff


चरण २

Youmu

#0@34इस मंदिर में कई योकाई घूम रहे हैं।

Youmu

#0@42क्या ये अजीब दिव्य आत्माएँ उस मंदिर के भिक्षु का किया हो सकते हैं?

Youmu

#0@50उस विवरण से मैं संतुष्ट तो नहीं हूँ।

???

#0@58वो ख़तरनाक है!

Kyouko Kasodani enters

???

#0@126तीर्थयात्रा के पथ पर धारदार चीज़ें क्यों घुमा रही हो?

Youmu

#0@134कोई परेशानी नहीं है न? ये तो बस योकाई और परी हैं?

<Boss title>

Kyouko

#0@142इस मंदिर में शिकार पर सख़्त निषेध है!

Youmu

#0@150आह, नहीं,आह, मेरा मतलब, मैं उनके मरने तक उन्हें नहीं काटने वाली थी....।

♪ द्वार पर खड़ी योकाई लड़की

Kyouko

#0@158जो कोई भी मंदिर में धारदार तलवार घुमाता है और अनावश्यक हत्या करता है,

Kyouko

#0@166उसे यहाँ मरना पड़ेगा!

Kyouko Kasodani defeated

Youmu

#1@30तुम योकाई हमेशा की तरह चुस्त हो।

Youmu

#1@38तो शायद तुम्हें दिव्य आत्माओं के बारे कुछ पता हो?

Kyouko

#1@46दिव्य आत्मा क्या होती है? स्वादिष्ट है क्या?

Youmu

#1@54....जैसा सोचा था।

Youmu

#1@62एक देवालय को ही दिव्य आत्माएँ एकत्र करने से लाभ मिल सकता है।

Youmu

#1@70पर मुझे एहसास हो रहा है कि ये एक योकाई की करतूत है....।

Youmu

#1@78फिर भी, यदि ये निराकार आत्माएँ रूप लें, वो तुरंत ग़ायब हो जाएँगी।

Youmu

#1@86अभी वो बस लोभ के भावना के प्रक्यक्ष रूप हैं।

Gnome-colors-gtk-edit.svg st03d.msg.jdiff


चरण ३

Kogasa Tatara enters

Youmu

#2@34क्या चाहिए तुम्हें?

<Boss title>

Kogasa

#2@42आह, एक तलवार घुमाने वाला! लेकिन किसी से भी काम चल जाएगा।

Kogasa

#2@50उधर पीछे एक लड़की पहरा दे रही है जिसे मैंने कभी नहीं देखा...

Kogasa

#2@58पर मैं उस पर जितना भी गोली बरसाऊँ, मैं समय समाप्ति से हार जाती हूँ।

Kogasa

#2@66तो क्या तुम उसका कुछ कर सकती हो~? मैं हाथ जोड़ती हूँ।

Youmu

#2@74योकाई से मदद की गुहार? अजीब है।

Kogasa

#2@82ही ही ही~! लेकिन उससे पहले मैं तुम्हारे ताक़त की परीक्षा लूँगी!

Kogasa Tatara defeated

Boss battle

Youmu

#0@34युयुको जी ने मुझे क़ब्रिस्तान जाने को कहा था, पर....

Youmu

#0@42(भले ही उन्होंने शायद वो न कहा हो)

Youmu

#0@50ख़ैर, ये आत्माएँ बहुर शोर मचा रही हैं।

???

#0@58औ-र पा-स म-त आ-ना!

Yoshika Miyako enters

???

#0@126इस जगह पर तुम जैसे लोग नहीं घुस सकते!

Youmu

#0@134आह, नमस्ते।

Youmu

#0@142....क्या तुम मर चुके हैं? शायद तुम सड़....

<Boss title>

Yoshika

#0@150हम हैं जिआंग शी, जिन्हें इस भव्य समाधि के सुरक्षा के लिए जागृत किया गया है।

Youmu

#0@158क्या? जिआ? आह, जिआंग शी।

Yoshika

#0@166हाँ, इसलिए ये जानते हुए, तुम्हें यहाँ से निकलना चाहिए। वरना तुम हम जैसे एक बन जाओगी!

Youmu

#0@174तुम जैसे....? क्षमा करना, पर मैं भी वैसी ही अवस्था में हूँ।

Youmu

#0@182पर बस कुछ शेष संबंधों के कारण इस दुनिया में घूमते फिरना,

Youmu

#0@190मुझे अफ़सोस है।

Youmu

#0@198अरे? कुछ तो गड़बड़ है।

♪ सख़्त जन्नत

Yoshika

#0@206हम इस दुनिया में संबंधों के कारण नहीं फँसे हैं!

Yoshika

#0@214ये बस इसलिए है ताकि मंदिर के निवासी उसे दोबारा पैरों तले न रौंद डालें।

Yoshika Miyako defeated

Yoshika

#1@30क्याााा-! मैं मर गई-!

Youmu

#1@38हाँ हाँ, हमें पता है तुम मर चुकी हो।

Youmu

#1@46जिआंग शी जिस के माथे पर मंत्र चिपका है.... मतलब तुम्हें कोई नियंत्रित कर रहा है।

Yoshika

#1@54ऐसा है क्या?

Youmu

#1@62पर हाँ, तुमसे नियंत्रित होने की बू पहले से आ रही थी।

Yoshika

#1@70क्या? बू? पर मैं अपने त्वचा का अच्छा ख़्याल रखती हूँ....!

Youmu

#1@78ज़ोंबी मज़ाक....

Youmu

#1@86ख़ैर, मैं तुम्हारे मालिक को ढूँढ़ती हूँ। मुझे विश्वास है उसके पर मेरे लिए सुराग़ होंगे।

Yoshika

#1@94मेरा मालिक??

Yoshika

#1@102ये क्या....

Yoshika

#1@110कहीं इसका मतलब, ये तो नहीं, कि भयानक धार्मिक युद्ध छिड़ गई है?!

Yoshika

#1@118....वो कौन थी?

Gnome-colors-gtk-edit.svg st04d.msg.jdiff


चरण ४

Youmu

#0@34यहाँ.... मेरा अलौकिक रडार को सिग्नल मिल रहा है!

Youmu

#0@42हाँ, ये स्थान एक मक़बरा है।

Seiga Kaku enters

???

#0@134स्वागत है। अरे, तुम तो....

Youmu

#0@142हम कुछ ही समय पहले मिले थे न? कौन हो तुम?

<Boss title>

Seiga

#0@150मैं हूँ सेगा काकु। मैं संन्यासी जैसे रह रही हूँ।

Youmu

#0@158संन्यासी.... तो क्या इसका मतलब है....?

Seiga

#0@166एक संन्यासी संन्यासी ही होती है। अकाल यौवन, साफ़ मन, दुरुस्त शरीर।

Seiga

#0@174लगता है तुम भी वैसी ही जीव हो। तुम जीवन और मृत्यु के सीमाओं से परे हो न?

Youmu

#0@182नहीं, मैं मर सकती हूँ।

Yoshika Miyako enters

Yoshika

#0@190मर सकती हो?!

Yoshika

#0@198मरना नहीं चलेगा। उसके अलावा कुछ भी।

Seiga

#0@206अरे, तुम जल्दी वापस आ गई।

Youmu

#0@214अरे अरे। तुम तो जल्द पुनर्जीवित हो गई।

Seiga

#0@222....क्या था वो? तुम्हें इस सख़्स से कोई परेशानी है?

♪ पुरानी युआनशिआन

Seiga

#0@230तो क्या एक और मुक़ाबला लड़ोगी? इस लड़की के साथ जिसने मक़बरे के दिव्य आत्माओं को सोख लिया है?

Youmu

#0@238तो तुम इसकी मालकिन हो! इससे मेरा थोड़ा समय बाख जाता है!

Seiga

#0@246मेरी वफ़ादार सेविका! इसे नष्ट कर दो जो तुम्हारे पुनर्जीवन को नकार रही है!

Seiga Kaku and Yoshika Miyako defeated

Seiga

#1@30अरेरेरेरे, लाजवाब। गेनसोक्यो के लोग सचमुच प्रतिभाशाली हैं।

Youmu

#1@38वैसे, मैं तो शक्तिशाली हूँ।

Youmu

#1@46अब मुझे तुमसे कुछ पूछना है। जो दिव्य आत्माएँ जो यहाँ एकत्र हो रहे हैं....

Seiga

#1@54कोई बात नहीं, कोई बात नहीं। सारी तैयारियाँ अब तक ख़त्म हो गई होंगी।

Youmu

#1@62तैयारियाँ? किसलिए?

Seiga

#1@70ये आत्माएँ हो दिव्य आत्माओं जैसी दिख रही हैं, वो दरअसल सिर्फ़ साधारण इच्छाएँ हैं।

Seiga

#1@78अगर तुम उन्हें अकेला छोड़ दोगी, वो अपने आप ग़ायब हो जाएँगे। वो कोई हानि नहीं पहुँचाएँगे।

Youmu

#1@86....

Seiga

#1@94वे जल्द ही पुनर्जीवित हो जाएँगी।

Seiga

#1@102उस विदेशी मसीह के मुक़ाबले जो अपने मृत्युदंड के तिन दिन बाद पुनर्जीवित हुआ था,

Seiga

#1@110....ये बहुत अधिक दिव्य और शानदार होगा।

Youmu

#1@118मुझे नहीं पता कि तुम क्या योजना बना रही हो, पर

Youmu

#1@126.... किसी मृत व्यक्ति का पुनर्जीवन केवल एक बुरी बात ही हो सकती है!

Youmu

#1@134.... शायद।

Gnome-colors-gtk-edit.svg st05d.msg.jdiff


चरण ५

Youmu

#0@34ये एक विशाल मक़बरा है....

???

#0@38आह, वह भाग्यशाली दिन अन्ततः आ गया।

Mononobe no Futo enters

???

#0@106जिसने मेरे पुनर्जीवन की प्रशंसा की थी, अपना नाम बताएँ।

Youmu

#0@114अरेरे। यहाँ कुछ है।

<Boss title>

Futo

#0@122लगता है.... आप अमानवीय हैं।

Youmu

#0@130हुँह, तुम्हारा शरीर मृत्यु के दुर्गंध से ढका है।

Futo

#0@138आम्, मैं और जीवित प्राणियों में से नहीं हूँ। हम अनेक पहलुओं में एक समान हैं न?

Futo

#0@146क्या आप एक शिकाइसेन... हैं?

Youmu

#0@154क्या? नहीं, मैं नहीं हूँ।

Futo

#0@162....क्या?

Futo

#0@170अ-अच्छा। मुझसे पहचान में एक भूल हो गई। क्षमा कीजिए।

Youmu

#0@178तुम एक शिकाइसेन हो....? तो तुम उस दुष्ट संन्यासी से मिली हुई हो।

♪ महादेवियों की किंवदंती

Futo

#0@186आम्, और आप उससे क्या करेंगे?

Youmu

#0@194प्रकृति के वास्तविक विधान के विपरीत जाने वालों को हराकर उन्हें वापस मिट्टी में मिलाऊँगी!

Futo

#0@202दुर्भाग्यपूर्ण है। और मुझे विश्वास था कि आप मेरे प्रति अधिक दयावान होंगे।

Futo

#0@210आप जिसे लगता है कि वह मोनोनोबे के गुप्त कला औरताओ के पथ के विलय को मिट्टी में मिला सकते हैं,आइए और मेरा सामना कीजिए!

Mononobe no Futo defeated

Futo

#1@30यह क्या? लगता है आप कोई साधारण मनुष्य नहीं हैं।

Youmu

#1@38सही कहा, मैं कोई साधारण मनुष्य नहीं हूँ~।

Futo

#1@46जिस गति से मुझे आपने पराजित किया, अवश्य आप एक प्रसिद्ध संन्यासी होंगे।

Youmu

#1@54मैंने कहा न, मैं एक संन्यासी नहीं हूँ।

Futo

#1@62इतनी विनम्रता की आवश्यकता नहीं।

Futo

#1@70क्या आप ताज राजकुमार के पुनर्जीवन को आशीर्वाद देने नहीं आई हैं?

Youmu

#1@78....

Youmu

#1@86(इस समय शायद उसके हाँ से हाँ मिलाना ही बेहतर होगा।)

Youmu

#1@94ज-जी हाँ। मैं आशीर्वाद देने आई हूँ।

Futo

#1@102मैं समझी, मैं समझी।

Futo

#1@110आप जैसे शक्तिशाली व्यक्ति का आशीर्वाद देना गुणगान के योग्य होगा।

Futo

#1@118अनाम, कृपया इस दिशा में आएँ....

Gnome-colors-gtk-edit.svg st06d.msg.jdiff


चरण ६

Youmu

#0@34मैंने एक संन्यासी का नाटक कर उसे बुद्धू बना दिया और घुस तो गई।

Youmu

#0@42फिर भी, मैंने आज तक किसी मक़बरे को इतना सजीव नहीं देखा है।

Youmu

#0@50और ये दिव्य आत्माएँ, नहीं - वो दरअसल इच्छाओं के प्रत्यक्ष अवतार हैं।

Youmu

#0@58सामान्य आत्माएँ.... प्रतिशोधी आत्माओं में से सबसे निचले दर्जे वाली आत्माएँ।

Youmu

#0@66इन चीज़ों को एकत्र करने से भला किसको लाभ हो सकता है....?

???

#0@70नहीं, वे अपनी इच्छा से यहाँ इकट्ठे हुए हैं।

Toyosatomimi no Miko enters

???

#0@138हर युग में, हर युग में इच्छाएँ मेरे आसपास एकत्र होती हैं।

???

#0@146मुझे यक़ीन है, इसका कारण यह है कि मुझे प्रतिदिन एक समय पर दस इच्छाएँ सुननी पड़ती थी।

Youmu

#0@154....

???

#0@162....अरे? तुम में दो इच्छाएँ कम हैं।

???

#0@170मुझे जिन दस इच्छाओं की उम्मीद थी, उनमें जीवन और ईर्ष्या से लगाव....

Youmu

#0@178क्षमा करना, पर मैं दरअसल आधी-मृत हूँ।

<Boss title>

Miko

#0@186ऐसा है क्या? तो क्या हम दोनों सहयोगी नहीं हुए?

Youmu

#0@194क्या?

Miko

#0@202वो जो अनंत जीवन के लक्ष्य बनाकर चलते हैं?

Miko

#0@210वैसे, तुम पहले से एक संन्यासी या शिकाइसेन हो सकती हो।

Youmu

#0@218नहीं, नहीं, नहीं।

Youmu

#0@226मैंने बस अभी-अभी एक संन्यासी होने से इनकार किया था।

Miko

#0@234छिपाने की आवश्यकता नहीं।

Miko

#0@242मैं सब देख और समझ सकती हूँ। इंसानी इच्छाओं को देखकर जितना समझा जा सकता है।

Miko

#0@250दुर्भाग्यवश, तुम्हारी इच्छाओं में अभाव है और वे अधूरे हैं।

Youmu

#0@258मैं कह रही हूँ न, ऐसा नहीं है-!

♪ शोतोकु किंवदंती ~ सच्चा प्रशासक

Miko

#0@266एक सहयोगी होने के नाते, तुम समझ रही हो न कि आगे क्या होने वाला है?

Youmu

#0@274मैं नहीं समझी हूँ!

Miko

#0@282दो जीव जो अनंत जीवन के लिए पुनर्जीवित हुए हैं, उन्हें युद्ध करना है और ताओ के शिक्षा में जुड़ जाना है!

Miko

#0@290अब, मुझे हराने का प्रयत्न करो!

Miko

#0@298और अनंत जीवन के राजनेता के रूप में पुनर्जन्म लो!

Toyosatomimi no Miko defeated
  • If player continued
Ending #%nb%
  • If player didn't continue
Ending #%ng%
  • If player has not continued, has 3 bombs or above, played in Normal difficulty or above, and cleared Ending No. <%ng%>
Ending #%ne%