Th07/साकुया का अतिरिक्त और फैंटैज़्म मोड़

From Touhou Patch Center
Jump to: navigation, search
This page is a translated version of a page Th07/Sakuya's Extra and Phantasm and the translation is 100% complete.

Other languages:Bulgarian 100% • ‎Czech 7% • ‎German 100% • ‎Greek 100% • ‎English 100% • ‎British English 9% • ‎Google Translate English 100% • ‎Troll translations 52% • ‎Spanish 100% • ‎Latin American Spanish 2% • ‎French 100% • ‎Hindi 100% • ‎Hungarian 100% • ‎Indonesian 100% • ‎Italian 100% • ‎Japanese 100% • ‎Korean 100% • ‎Norwegian Bokmål 100% • ‎Portuguese 100% • ‎Brazilian Portuguese 100% • ‎Russian 100% • ‎Serbian 99% • ‎Swedish 100% • ‎Thai 100% • ‎Ukrainian 100% • ‎Vietnamese 100% • ‎Simplified Chinese 99%

अप्रैल २१, २०१६ को ख़त्म हुआ।

अतिरिक्त



Gnome-colors-gtk-edit.svg msg7.dat.jdiff


Chen enters

Chen

#22@40आखिरकार हम फिर से मिले।

Chen

#22@120पर इस बार बच के रहना।

Chen

#22@210मैं एक नयी शिकिगामी की तरह हूँ।

Sakuya

#22@300अरे, मैंने ये बिल्ली देखी है. यहाँ पहुँचने के लिए क्या तुम्हें मरना पड़ा?

Chen defeated

Sakuya

#20@60लगता है जितनी बार मैं नज़र घुमाऊँ,

Sakuya

#20@61यह बगीचा और बड़ा और ख़ूबसूरत हो जाता है।

???

#20@62मुझे एक इंसान की गंध आ रही है~

Ran Yakumo enters

#20@103सुकिमा योकाई की शिकिगामी रान याकुमो

Ran

#20@103अरे, मैं गलत थी।

Sakuya

#20@104नहीं, तुम सही हो।

Ran

#20@105तुम्हें देखकर लगता है तुम जीवित हो...

Ran

#20@106पर मुझे पूरा भरोसा नहीं है। क्या तुम मृत हो?

Sakuya

#20@107बाहरी दिखावा ही राय बनाने के लिए काफ़ी है।

Sakuya

#20@108और देखकर लगता है कि तुम एक लोमड़ी हो।

Ran

#20@109और देखकर लगता है कि तुम एक कुत्ता हो।

Sakuya

#20@110सिर्फ़ किसी के दिखावट पर मत जाओ।

Ran

#20@111और मुझे सिर्फ एक साधरण जानवर समझने की गलती मत करो।

Ran

#20@112मैं एक शक्तिशाली मालकिन की शिकिगामी हूँ।

Ran

#20@113और इसलिए मेरी ताकत उन सारे योकाइयों से ज़्यादा है जिनसे तुम अभी तक मिले होगे।

Ran

#20@114इंसानों और कुत्तों की तो बात ही क्या।

Sakuya

#20@115शिकिगामियों, बिल्लियों और लोमड़ियों में कोई ख़ास फ़र्क नहीं है।

Ran

#20@116और तुमने बिल्ली कहाँ देखी?

Sakuya

#20@117वहीं पीछे, सीढ़ियों के पास।

Ran

#20@118मैं विषय बदलती हूँ। क्या मतलब है तुम्हारा?

Sakuya

#20@119इस बार, मुझे एक लोमड़ी नज़र आ रही है।

Sakuya

#20@120यह जगह जानवरों से भरी है।

Ran

#20@121...तो तुम चेन से मिले?

Ran

#20@122मैं उसे खोज रही थी।

Ran

#20@123वो एक बिल्ली की तरह बेचैन है, और अभी वो लापता है।

Sakuya

#20@124अफ़सोस की बात है,

Sakuya

#20@125वह कपड़े धोने पहाड़ों पर गई है।

Ran

#20@126ऐसा है क्या?

Ran

#20@127शायद मुझे भी पहाड़ों में लौट जाना चाहिए।

♪ लड़की की मायावी दफ़न~ मरणकल्पना

Sakuya

#20@128एक लोमड़ी पहाड़ों में सिर्फ़ मरने के लिए ही जाता है।

Sakuya

#20@129और यहाँ परलोक में वह तुम्हारे लिए एक मुनासिब क़ब्र होगा।

Ran

#20@130अच्छा, तो वो तुम हो जो चेन को परेशान कर रही थी?

Ran

#20@131चेन मेरी शिकिगामी है। मुझे उसका बदला लेना होगा।

Sakuya

#20@132वह एक योकाई की शिकिगामी की शिकिगामी है? मुझे वैसा ही कुछ लगा था।

Ran Yakumo defeated

Sakuya

#21@60तो वापस पहाड़ों में लौट चलो।

Ran

#21@61आह...

Ran

#21@62चेन शायद उदास है क्योंकि वो शिकिगामी के कब्ज़े में नहीं है।

Sakuya

#21@63तो मैंने उन दोनों को हरा दिया।

Sakuya

#21@64पर फिर भी मुझे अहसास हो रहा है कि इसके पीछे किसी और का हाथ है।

Ran

#21@65मुझे बचाइए, युकारी जी~

Ran

#21@66ये मेरी काबिलियत के बाहर है।

Sakuya

#21@67परेशान करने की काबिलियत?

Sakuya

#21@68तुम्हारी मालकिन आख़िर कर क्या रही है,

Sakuya

#21@69कि उसकी शिकिगामी इस तरह खुलेआम घूम रही है।

Ran

#21@70सो रही हैं।

Sakuya

#21@71जगाओ उसे।

Ran

#21@72उन्हें जगाने के लिए मुझे पहाड़ों में वापस जाना पड़ेगा।

Sakuya

#21@73तो वह यहाँ नहीं हैं...

Sakuya

#21@74कितनी परेशान करने वाली शिकिगामी की मालकिन है वह...

Sakuya

#21@75वह तुमसे भी ज़्यादा परेशानी खड़ी करने वाली होगी।

Ran

#21@76....तुम वो कह सकती हो।

Sakuya

#21@77खैर, जब वह जग जाएगी ताम मैं वापस आऊँगी।

Sakuya

#21@78तब तक उसे ठीक से जगा देना।

Ran

#21@79तुम कहना क्या चाहती हो?

Sakuya

#21@80जैसा कहती हूँ, वैसा करो।

Ran

#21@81*सिसकी*

फैंटैज़्म



Gnome-colors-gtk-edit.svg msg8.dat.jdiff


Ran Yakumo enters

Ran

#22@40तुम फिर से?

Ran

#22@120मैं आज थकी हुई हूँ।

Ran

#22@210मैं बस सोने ही जा रही थी।

Sakuya

#22@300तुम चाहो तो मैं तुम्हें हमेशा के लिए सुला सकती हूँ।

Ran Yakumo defeated

Sakuya

#20@60क्या यहाँ की कानून व्यवस्था

Sakuya

#20@61हमेशा इतनी ढीली रहती है?

???

#20@61इस दुनिया में कोई कानून नहीं है...

Yukari Yakumo enters

???

#20@102क्योंकि यहाँ पर मृत्युदंड नहीं दिया जा सकता।

Sakuya

#20@103तो फिर यम का क्या?

???

#20@104अगर तुम यम से ज़्यादा ताकतवर हो, तो तुम जो चाहे कर सकती हो।

???

#20@106सिर्फ़ यहाँ नहीं बल्कि सभी जगहों का बस यही एक नियम है...

Sakuya

#20@107किस में ताकतवर? पैसों में?

???

#20@108चालाकी में।

Sakuya

#20@109तो किस चालक शक्श से मैं बात कर रही हूँ?

#20@110आत्मिक अपहरण का ज़िम्मेदार युकारी याकुमो

Yukari

#20@110मैंने तुम्हारे बारे में रान से सुना है।

Sakuya

#20@111अरे, मैं तो मशहूर हो गई हूँ।

Yukari

#20@112हाँ, मैं हमेशा से तुम्हारे जैसे किसी मशहूर इंसान से मिलना चाहती थी।

Sakuya

#20@113इतना कि तुम पूरी तरह जाग उठी हो।

Sakuya

#20@114पर मैं तुम्हें अपना हस्ताक्षर नहीं दे सकती।

Yukari

#20@115कोई बात नहीं, तुम्हारी हस्तलिखित नक़ल ही काफ़ी होगी~

Sakuya

#20@116...हस्तलिखित?

♪ मरणकल्पना

Yukari

#20@117तुमने अभी तक नज़र नहीं आ रहा...

Sakuya

#20@118कि तुम बिल्कुम भी चालाक नहीं हो?

Yukari

#20@119कि पृथ्वी और नरक की सीमाएँ मिट रही हैं?

Yukari

#20@120ये दानवों का जंगली जगह बन गया है।

Sakuya

#20@121नरक माकाई जितनी डरावनी नहीं है।

Sakuya

#20@122शैतान के मुक़ाबले दानव कुछ भी नहीं हैं।

Yukari

#20@123तुम भाग नहीं सकती।

Yukari

#20@124यहाँ के बाद नरक के सबसे बुरा इलाका है।

Sakuya

#20@125कोई बात नहीं, जब तक मेरे पास मकड़ी के रेशम का एक धागा है

Sakuya

#20@126मैं स्वर्ग का रास्ता ढूँढ़ लूँगी।

Yukari

#20@127हा हा हा...

Yukari

#20@128इसके बावजूद कि मेरी गोला-बारी से बचने के रास्ते काम

Yukari

#20@129और किसी मकड़ी के जाल से ज़्यादा पेचीदा हैं।

Yukari Yakumo defeated

Sakuya

#21@60आह~, यह स्वर्ग है।

Yukari

#21@61मैंने कल्पना भी नहीं की थी कि कोई इस गोला-बारी से निकल पाएगा~

Sakuya

#21@62मकड़ी की जल मकड़ी से कई गुना बड़ी चीज़ों को भी फँसा सकती है।

Sakuya

#21@63जैसे एक तितली।

Yukari

#21@64उससे याद आया.

Yukari

#21@65रात की मकड़ी चोर की तरह फुर्तीली होती है।

Sakuya

#21@66मेरी बेइज़्ज़ती मत करो।

Sakuya

#21@67देखा जाए तो इस सेविका की वर्दी में रहकर मुसीबत में पड़ना ग़ैरमामूली होगा।

Yukari

#21@68वैसे, कम से कम मेरे घर में कोई बेशकीमती चीज़ नहीं है।

Yukari

#21@69पर फिर भी इस सीमा पर मौजूद उस देवालय से बहुत ज़्यादा है।

Sakuya

#21@70वैसे भी

Sakuya

#21@71अगर तुम हर वक़्त सोती रहोगी तो तुम्हारा घर खाली पड़ा रहेगा।

Yukari

#21@72क्या कह रही हो। मेरे घर में बहुत सी अच्छी चीजें हैं।

Sakuya

#21@73तुमने अभी कुछ और कहा था।

Yukari

#21@74जैसे मेरा फ़ुतोन…

Sakuya

#21@75उसे कोई चुराने नहीं वाला।

Yukari

#21@76और मेरा तकिया।

Sakuya

#21@77अच्छा तो यहाँ सचमुच कुछ नहीं है...

Yukari

#21@78पर कभी कभी कुछ चीजें बहाव के साथ आ जाती हैं।

Sakuya

#21@79क्या यहाँ आसपास कोई समुंदर है?

Yukari

#21@80जैसे इंसानी बच्चे और वयस्क।

Sakuya

#21@81वे जहाँ से आए हैं, उन्हें वापस लौटाओ!